Categories
Milk

विदेशी गाय व भैंस का दूध हमें क्यों नहीं पीना चाहिए

जहां एक और देसी गाय का दूध A2 दूध है जिसमें सोनभस्‍म है वही विदेशी गाय और भैंस का दूध A1 दूध है जो जहर के समान है इसलिए विदेशी जैसे कि डेनमार्क और न्यूजीलैंड के लोग अपनी गाय का दूध नहीं पीते बल्कि इस दूध का पाउडर बनाकर हमें बेचते हैं जहां देसी गाय का देसी घी हमारे लिए वरदान हैं क्योंकि यह 37 डिग्री तापमान पर पिघल जाता है जो कि हमारे शरीर के तापमान 37.2 डिग्री से कम है और हमारे शरीर में आराम से पच जाता है जबकि विदेशी गाय और भैंस का घी 40 डिग्री पर पिघलता है और हमारे शरीर में जाकर जमा जाता है और कई तरह की बीमारियां पैदा करता है

Categories
Desi Cow

हमें देशी गाय का दूध ही क्यों पीना चाहिए ?

देशी गाय के दूध में सॉंभस्म (स्वर्ण) होता है जो सूर्यकेतु नाड़ी द्वारा सूर्य की किरणों को अवशोषित करने से पैदा होता है। इसलिए गाय का दूध पीला अर्थात स्वर्ण जैसा होता है। देशी गाय का दूध A2 दूध होता है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक होता है। जो मधुमेह और कैंसर जैसी बिमारियों को ख़त्म करता है। यह हमारी रोगों से लड़ने की शक्ति (Immunity) को कई गुणा बढ़ाता है। यह बच्चों में पढ़ाई की एकाग्रता को बढ़ाता है।

देसी गाय के पंचग्वय पदार्थों (दूध, देसी घी, दही, गौमूत्र एवं गौमय से बने पदार्थ) का अधिक से अधिक उपयोग करें। अपने घर में सात्विकता लाएं और गौशाला को आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग करें।